जनता कांग्रेस का विधानसभा घेराव : पुलिस के साथ जूझती रही ऋचा जोगी की टीम


रायपुर।अनेक मुद्दों को लेकर जानता कांग्रेस (जे) के करीब डेढ़ हजार कार्यकर्ताओं ने विधायक अमित जोगी के नेतृत्व में विधानसभा घेरने की तैयारी की। पंडरी स्थित मंडी गेट के पास सभा कर कार्यकर्ता विधानसभा की ओर रवाना हुए। इसमें काफी महिलाएं भी थीं। दोपहर करीब डेढ़ बजे इन्हें लोधीपारा चौक के पास रोक लिया गया। इस दौरान पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ने की पुरजोर कोशिश की गई। झूमाझटकी के दौरान कुछ लोगों को हल्की चोटें आईं। इसके बाद पार्टी के कुछ नेताओं के साथ कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी। - जनता कांग्रेस के इस घेराव में पहले अमित जोगी, सियाराम कौशिक, आरके राय जैसे पार्टी के बड़े नेताओं ने मंडी गेट पर बने मंच से सरकार को जमकर कोसा और कार्यकर्ताओं में जोश भरा। इसके बाद करीब डेढ़ हजार कार्यकर्ता विधानसभा घेरने के लिए आगे बढ़े। - लोधीपारा चौक के पास भारी संख्या में तैनात पुलिस जाब्ते से कार्यकर्ता भिड़ गए। बैरिकेडिंग तोड़ने की पुरजोर कोशिश की गई। अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी के नेतृत्व में महिला कार्यकर्ताओं ने महिला पुलिस के साथ जमकर झूमाझटकी की। इसकी बाद कुछ नेताओं के साथ भारी संख्या में कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी। छत्तीसगढ़ को नक्सल राज्य बना दिया है सरकार ने - मरवाही विधायक अमित जोगी ने कहा कि रमन सरकार केवल सपने दिखाती है। कांग्रेस दिन भर सपने देखती है और हमारी पार्टी छत्तीसगढ़ के लोगों के सपने पूरे करने का काम करेगी। भाजपा ने सीडी बनाने की फैक्ट्री खोल रखी है। दूसरी पार्टी सीडी बांटने का काम करती है, लेकिन हम सीडी नहीं सीजी यानि छत्तीसगढ़ की राजनीति करते हैं। - हम रमन सिंह से घोषणापत्र के वादे पूरे करने की मांग कर रहे हैं। किसानों को सूखा राहत का पैसा देना होगा। जो जहां रह रहा है उसे उसकी जमीन का पट्टा देना होगा। सरकारी नौकरी में स्थानीय लोगों को 90 फीसदी आरक्षण देना होगा। - अजीत जोगी एक माह तक जीवन और मृत्यु के बीच जूझ रहे थे। उनको नया जीवन दवाओं से नही बल्कि ढाई करोड़ जनता की दुआओं मिला है।

Back to previous page

2018-07-05Total Comments :

Similar Post You May Like